शनिवार, 2 जनवरी 2016

सीताफल के गुण और लाभ :Benefits of custard apple




    सीताफल  न केवल एक अच्छा फल है बल्कि अपनी बहुत सारी खूबियों के साथ यह हमारी सेहत के लिए कमाल का होता है क्योंकि जानकर यह मानते है तो शरीर की कमजोरी के लिए दूर करने के लिए सीताफल एक बेहतर विकल्प हो सकता है और साथ ही यह आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति  को भी बढाता है 1) सीताफल एक स्वादिष्ट फल है| यह फल हल्की ठंड की शुरूआत के साथ यानी अगस्त से नवम्बर के आस-पास आने वाला फल है। आयुर्वेद के अनुसार सीताफल के सेवन से शरीर को शीतलता मिलती है। यह पित्तशामक, तृषा शामक, उलटी बंद करने वाला, पौष्टिक, कफ एवं वीर्य वर्धक, मांस एवं रक्त वर्धक, ऊर्जा वर्धक, वात दोष शामक एवं दिल के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। गुणों से भरपूर सीताफल के लाभ निम्न वर्णित हें- 2) वजन बढ़ाता है सीताफल-सीताफल में वजन बढ़ाने की क्षमता भरपूर होती है, यानी इसके सेवन से वजन आसानी से बढ़ा सकते हैं। अगर आप वजन बढ़ाने के सारे जतन करके थक चुके हैं तो ऐसे में यह फल बहुत ही फायेदमंद है। अपने भोजन में सीताफल को शामिल कर आसानी से अपना वजन बढ़ा सकते हैं। 3) एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर शुगर एप्पल यानी सीताफल में प्राकृतिक एंटी-ऑक्सीडेंट यानी विटामिन सी बहुत अधिक मात्रा में होता है। विटामिन-सी में शरीर की रोगों से लड़ने वाली शक्ति यानी इम्यून सिस्टम को ताकतवर बनाने की क्षमता होती है। तो हर दिन एक बार सीताफल खाइए और बीमारियों को प्राकृतिक रूप से दूर भगाइए 5) दिमाग के लिए फायदेमंद वर्तमान में दिमाग की समस्यायें तेजी से बढ़ रही हैं खासकर तनाव के कारण चिड़-चिड़ेपन की समस्यार लोगों में अधिक देखने को मिल रही है। विटामिन बी कॉम्प्लेक्स से भरा हुआ सीताफल दिमाग को शीतलता देने का भी काम करता है। यह आपको चिड़चिड़ेपन से बचाकर निराशा को दूर रखता है। 6) दांतों और एनीमिया के लिए सीताफल आपके दांतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही फायदेमंद है। इसको नियमित खाकर आप दांतों और मसूड़ों में होने वाले दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। इसके साथ ही यह खून की कमी यानी एनीमिया से बचाता है। सीताफल का हर दिन इस्तेमाल करन से खून की कमी दूर हो जाती है। 7) आंखों और जोड़ों के लिए सीताफल एक मीठा फल है जिसमे भरपूर मात्र में उर्जा होती है और साथ ही यह आपके शरीर की दुर्बलता को बड़ी आसानी से कम कर सकता है और आपके अंदर एक नई उर्जा और स्फूर्ति का संचार करता है | 8) सीताफल आसानी से पचने वाला फल होता है जो आपकी एसिडिटी और आपके अल्सर में बहुत लाभकारी होता है | 9) सीताफल के बीज को भी आप कई तरीको से उपयोग में ले सकते है उनमे सबसे मजेदार है इन्हें भूनकर खाना और आप इन्हें कच्छा भी खा सकते है या फिर दूसरे बीजो के साथ मिक्स करके भी खा सकते है |इसके बीज नट्स के साथ नाश्ते में एक बेहतरीन नाश्ता हो सकता है और एक पत्रिका के अनुसार दस ग्राम तक इसके बीज रोजाना लेने पर आपको प्रोस्टेंट से संबधित बिमारियों से निजात मिलती है | 10) सीताफल खाने से दिमाग शांत रहता है क्योंकि यह शीतल फलो में होता है इसलिए तनाव को कम करने में भी सीताफल एक अच्छा फल साबित हो सकता है |12) शरीर को ऊर्जावान बनाये अगर आप कमजोरी महसूस कर रहे हैं और आपके शरीर में ऊर्जा की कमी हो रही है तो सीताफल आपकी यह परेशानी दूर कर सकता है। सीताफल बहुत ही अच्छा एनर्जी का स्रोत होता है और इसके सेवन से थकावट और मांसपेशियों की कमजोरी आपको बिलकुल भी महसूस नहीं होगी। 13) सीताफल आंखों की देखने की क्षमता बढ़ाता है, क्योंकि इसमें विटामिन सी और रिबोफ्लॉविन होता है। इससे नंबर के चश्मे को आप खुद से बड़ी आसानी से दूर रख सकते हैं। इसके अलावा सीताफल में मौजूद मैग्नीशियम शरीर में पानी को संतुलित करता है और इस तरह से जोड़ों में होने वाले अम्ल को हटा देता है। यह अम्ल (uric acid)अर्थराइटिस का मुख्य कारण होता है। 14) दांतों के डॉक्टर मानते है और सलाह भी देते है कि इस फल के सेवन से दांतों की बीमारियों में मदद मिलती है और साथ ही उनमे होने वाला दर्द भी कम हो जाता है |साथ ही इसमें कुछ मात्र में पोटेशियम और सोडियम भी होते है जो आपके ब्लड प्रेशर को संतुलित करते है और यह आपकी दिल की गति को सामान्य करने के साथ साथ आपकी घबराहट भी दूर करता है |

  • 8) दिल और शुगर के लिए

    सीताफल के सेवन से दिल के साथ शुगर के स्तर को भी सामान्य रखा जा सकता है। सीताफल में सोडियम और पोटैशियम संतुलित मात्रा में होते हैं जिससे खून का बहाव यानी ब्लड प्रेशर में अचानक होने वाले बदलाव नियंत्रित हो जाते हैं। इसके साथ ही यह दोनों प्रकार की शुगर को संतुलित रखता है। इसमें शरीर में होने वाली शुगर को सोख लेने का गुण होता है और इस तरह से यह शुगर का स्तर सामान्य बनाए रखता है।
एक टिप्पणी भेजें