रविवार, 6 नवंबर 2016

मुंह सूखने की समस्या के अचूक नुस्खे


मुंह में लार बनने की प्रक्रिया कम हो जाने पर ड्राई माउथ यानी मुंह सूखने की समस्या उत्पन्न होती है। जिन लोगों को ये समस्या होती है, उनमें से कम ही इसे जान पाते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार हर छठा व्यक्ति इस परेशानी से ग्रस्त है। ड्राई माउथ होने के कई कारण होते हैं। पानी में फ्लोराइड की मात्रा में कमी, बॉडी में पानी की कमी होना, अनियमित दिनचर्या, भूखे रहना, देर रात तक जागना, कई दिनों तक जागना, पौष्टिक खानपान की कमी, ऐसिडिटी आदि के कारण मुंह में लार कम बनती है। अस्थमा के रोगी, जो नियमित पंप लेते हैं, उन्हें भी यह परेशानी हो जाती है। इस समस्या के समाधान के लिए आप कई घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं।
नींबू का जूस -मुंह के अंदर सलाइवा का उत्पादन बढ़ा सकता है और ड्राई माउथ की समस्या से राहत दिला सकता है। साथ ही, इसकी एसिडिक प्रवृत्ति आपके मुंह को साफ कर सकती है और बदबू को कम कर सकती है।
एक ग्लास पानी में आधा ग्लास नींबू का रस मिलाएं और थोड़ी सी शहद भी। दिन भर इस पानी के कुछ घूंट पीते रहें। इसके आलावा, आप होममेड लेमोनेड भी पी सकते हैं।
लाल मिर्च-
तेज लाल मिर्च ड्राई माउथ की समस्या के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपचार है। ये आपके टेस्ट बड को भी दुरुस्त करता है जिससे आप मीठे, नमकीन, तीखे और कड़वे के बीच बेहतर तरीके से अंतर कर पाते हैं। इसे उंगली पर लगाकर अपनी जीभ पर लगाएं। कुछ देर के लिए जीभ जलेगी लेकिन आपके सलाइवा ग्लैंड्स सक्रिय हो जाएंगे। इसके अलावा इसे अपने सूप और सलाद में डालकर भी खाया जा सकता है।
तरल पदार्थ का अधिक सेवन-
ड्राई माउथ की सबसे बड़ी वजह डीहाईड्रेशन होती है। इसलिए ऐसी समस्या उत्पन्न होने पर सबसे पहले तरल पदार्थों का सेवन बढ़ा दें। इससे आपका शरीर हाईड्रेट होगा। ठीक प्रकार से हाईड्रेशन होने से आपके शरीर के लिए अधिक सलाइवा उत्पन्न करना आसान होगा और ड्राई माउथ की समस्या ठीक हो जाएगी।
सौंफ का फ्लेवर सलाइवा के प्रवाह को प्रोत्साहित करता है और आपको ड्राई माउथ की समस्या से राहत मिलती है। साथ ही, इसका अरोमा फ्लेवर सांस की बदबू से भी छुटकारा दिलाता है। दिन में कई बार सौंफ चबाएं।






एलोवेरा जूस -
ड्राई माउथ की समस्या के लिए एलोवेरा एक बहुत पुराना नुस्खा है। यह मुंह के संवेदनशील ऊतकों की रक्षा करने में भी मदद करता है और टेस्ट बड्स को बढ़ाता है। रोज एक चौथाई कप एलोवेरा जूस पियें। इसके अलावा, आप असली एलोवेरा जेल को रूई की मदद से मुंह के अंदर भी लगा सकते हैं। कुछ मिनट लगाए रखने के बाद ठंडे पानी से मुंह का कुल्ला कर लें।
अदरक -
ड्राई माउथ से राहत पाने के लिए अदरक का सेवन भी किया जा सकता है। सलाइवा बढ़ाने के लिए अदरक को बहुत प्रभावी माना जाता है। इससे आपका मुंह लंबे समय तक ताजा बना रह सकता है। ताजे अदरक के छोटे टुकड़े को धीरे धीरे चबाएं। दिन में दो से तीन बार ऐसा करें। इसके अलावा, दो से तीन अदरक की चाय पियें।
इलायची -
ड्राई माउथ से लड़ने का ये घरेलू व आयुर्वेदिक उपचार है। इलायची चबाने से मुंह में गीलापन आता है और साथ ही सांस की बदबू भी कम होती है। हर बार खाना खाने के बाद या फिर जब भी आपको मुंह सूखा हुआ महसूस हो, एक-दो इलायची चबा लें।

एक टिप्पणी भेजें