5/1/17

सर्दी के मौसम मे स्वास्थ्यकारी पदार्थ Healthy foods in the winter season


   सर्दियों में पारा गिरने के साथ ही साइनाइटिस, खांसी, जुकाम और शरीर में दर्द की समस्याएँ आम होती हैं, पर कुछ बातों का ध्यान रखकर आप आसानी से इनका मुकाबला कर सकते हैं। आयुर्वेदिक तेलों से शरीर की मालिश के अलावा कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें आहार में शामिल करना सर्दियों को सुकून भरा बना देता है|
दालचीनी : दालचीनी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है और इससे रक्त शर्करा को नियंत्रित रखने में भी मदद मिलती है। प्रयोग : आधे इंच की दालचीनी स्टिक को पाउडर बना कर उसे 2 कप पानी में मिला लें, आधा होने तक इसे उबालते रहें। इस चाय को आधा चम्मच शहद या बिना कुछ मिलाए पिएँ।
अखरोट : सर्दियाँ अखरोट खाने के लिए सबसे मुफीद मौसम है। इसकी तासीर गर्म होती है, जिससे शरीर को प्राकृतिक रूप से गर्मी मिलती है। प्रयोग- यूं तो सर्दियों में अखरोट की गिरी सीधे ही खाई जा सकती है, अन्यथा इसे पानी में भिगो दें और ऊपर की त्वचा को उतार कर एक अखरोट की गिरी हर रोज खाएं।



च्यवनप्राश : दवा के रूप में कुछ लोग इसे गर्मियों में भी खाते हैं, पर सर्दियाँ इसे खाने के लिए सबसे उपयुक्त मौसम है। इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और शरीर स्वस्थ रहता है। प्रयोग- हर रोज एक चम्मच या पैक पर दिए निर्देशानुसार इसका सेवन करें।
कच्ची हल्दी : हल्दी शरीर में रक्त को साफ करने के साथ-साथ तीनों दोषों यानी वात-पित्त-कफ का शमन करती है। इसमें एंटीबैक्टीरियल व एंटीवायरल गुण होते हैं। प्रयोग- दूध में कच्ची हल्दी को कूट कर मिलाएँ और अच्छी तरह गर्म कर लें। इसमें थोड़ा-सा गुड़ मिलाकर बच्चों को पिलाने से ठंड और बुखार दोनों में राहत मिलती है।
तुलसी : तुलसी को जीवन-शक्ति सम्वर्द्धक और सर्वरोग निवारक माना गया है। हृदयरोग और सर्दी-जुकाम दोनों में इसका इस्तेमाल अच्छा रहता है। तुलसी की पत्तियों का सेवन पाचन में भी लाभकारी है। प्रयोग- तुलसी 11 पत्ती, 5 काली मिर्च, 10 ग्राम अदरक को डेढ़ पाव जल में पकाएँ। जब जल आधा पाव शेष बच जाए तो छान कर 2 चम्मच चीनी मिला कर गर्मागर्म चाय की तरह पिएँ। सर्दी, जुकाम, थकान से जुड़ी समस्याएँ दूर हो जाएंगी।
शहद : यह जुकाम और खांसी में काफी राहत पहुँचाता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, थकावट को दूर करता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल व एंटीवायरल गुण भी होते हैं। प्रयोग : अदरक या दालचीनी के रस या काढ़े में मिला कर पिएँ।
अंकुरित मेथी के दाने : इनका सेवन शरीर को गर्मी देता है। चने व दाल की तरह इनके स्प्राउट्स बना लें और उन्हें सलाद व सूप में मिलाएं। प्रयोग : दिन भर में 2 चम्मच मेथी के दानों का सेवन करें।
अलसी : यह भी शरीर के तापमान को बढ़ाने यानी शरीर को गर्मी देने का काम करती है। खासतौर पर वे लोग, जिनके हाथ-पैर ठंडे रहते हैं, उन्हें इसका सेवन करना चाहिए। प्रयोग : 2 चम्मच अलसी को हल्का भून लें और नाश्ते में खाने वाले अनाज में मिला कर खाएं।
अश्वगंधा : ठंड को दूर रखने में यह बेहद असरदार औषधि है। प्रयोग- दिन भर में एक बार एक चम्मच पाउडर को पानी में मिला कर पिएं।
लहसुन : यह एक औषधि है। गर्मियों की तुलना में सर्दियों में इसका सेवन अधिक करें। प्रयोग- सब्जियाँ और सूप में मिला कर लिया जा सकता है।
एक टिप्पणी भेजें